____इन टिप्स से घर में रहेगी पॉजिटिव एनर्जी, ध्यान रखें ये बातें

वास्तु शास्त्र हमेशा इस बात पर अधिक ध्यान देता है कि घर में किसी भी तरह से नेगेटिव एनर्जी (नकारात्मक ऊर्जा) का प्रवेश न हो। नकारात्मक ऊर्जा परिवार के सदस्यों को प्रभावित करती है, जिसके कई दुष्परिणाम हो सकते हैं। नीचे कुछ वास्तु टिप्स दिए गए हैं, जिनसे आप घर में प्रवेश करने वाली नेगेटिव एनर्जी को रोक सकते हैं-
1. घर की छत पर कबाड़ा अथवा फालतू सामान न रखें। यदि जरूरी हो तो एक कोने में रखें। कबाड़ा व फालतू सामान रखने से परिवार के सदस्यों के मन-मस्तिष्क पर दबाव पड़ता है। इससे पितृ दोष भी लगता है।
2.
घर जितना प्राकृतिक लगेगा, उतना ही उसका आभामंडल अच्छा होगा। घर को प्राकृतिक रूप देने के लिए आस-पास पेड़-पौधे, चारों ओर खुला हुआ स्थान, दूर से दिखने वाली दीवारों पर प्राकृतिक पत्थर, गमले आदि का उपयोग करें।
3.
घर की पॉजिटिव एनर्जी को कायम रखने के लिए जरूरी है कि घर का प्लास्टर उखड़ा हुआ न हो। यदि कहीं से थोड़ा सा भी प्लास्टर उखड़ जाए तो तुरंत उसे दुरुस्त करवाएं।
4.
घर में कलर करवाते समय इस बात का ध्यान रखें कि पेंट एक सा हो। शेड एक से अधिक हो सकते हैं, लेकिन शेड्स का तालमेल ठीक होना चाहिए।
5.
घर के आस-पास कोई गंदा नाला, गंदा तालाब, श्मशान घाट या कब्रिस्तान नहीं होना चाहिए। इससे भी आभामंडल को अधिक फर्क पड़ता है।
6.
घर कितना ही पुराना हो, समय-समय पर उसकी मरम्मत, रंग-रोगन आदि कार्य करवाते रहना चाहिए ताकि नयापन व ताजगी बनी रहे।

बिजनेस में सक्सेस के लिए वास्तु टिप्स
वास्तु शास्त्र के सिद्धांत सिर्फ घर पर ही नहीं बल्कि ऑफिस व दुकान पर भी लागू होते हैं। यदि दुकान या ऑफिस में वास्तु दोष हो तो व्यापार में सफलता मिलने में संदेह रहता है। किस दिशा में बैठकर आप लेन-देन आदि कार्य करते हैं, इसका प्रभाव भी व्यापार पर पड़ता है। यदि आप अपने व्यवसाय में सफलता पाना चाहते हैं नीचे लिखी वास्तु टिप्स का उपयोग कर सकते हैं-
1. वास्तु शास्त्रियों के अनुसार चुंबकीय उत्तर क्षेत्र धन के देवता कुबेर का स्थान माना जाता है जो कि धन वृद्धि के लिए शुभ है। यदि कोई व्यापारिक वार्ता, परामर्श, लेन-देन या कोई बड़ा सौदा करें तो मुख उत्तर की ओर रखें। इससे व्यापार में काफी लाभ होता है।
इसके पीछे वैज्ञानिक कारण भी है कि इस ओर चुंबकीय तरंगें विद्यमान रहती हैं जिससे मस्तिष्क की कोशिकाएं सक्रिय रहती हैं और शुद्ध वायु के कारण भी अधिक ऑक्सीजन मिलती है जो मस्तिष्क को सक्रिय करके स्मरण शक्ति बढ़ाती हैं। सक्रियता और स्मरण शक्ति व्यापारिक उन्नति और कार्यों को सफल करते हैं।
2. व्यापारियों को चाहिए कि वे जहां तक हो सके व्यापार आदि में उत्तर दिशा की ओर मुख रखें तथा कैश बॉक्स और महत्वपूर्ण कागज चेकबुक आदि दाहिनी ओर रखें। इन उपायों से धन लाभ तो होता ही है साथ ही समाज में मान-प्रतिष्ठा भी बढ़ती है।
इस शेर से मिलेगा आपको आत्मविश्वास
वास्तु शास्त्र के अनुसार घर में रखा हर सामान घर के वास्तु पर अपना गहरा प्रभाव डालता है। घर में कुछ विशेष प्रकार का सजावट का सामान रखने से उसका सकारात्मक प्रभाव कुछ ही समय में दिखाई देने लगता है। यदि आपको लगता है कि आप में आत्मविश्वास की कमी है तो इसके लिए आपको अपने घर में पीतल का शेर रखना चाहिए। इससे आपके आत्मविश्वास में एक नया जोश दिखाई देगा।
जिस परिस्थिति में आप में आत्मविश्वास की कमी आ जाती है, उसमें अपनी उपस्थिति को ज्यादा शक्तिशाली और बेहतर बनाने के लिए अपने घर के उत्तर-पूर्व क्षेत्र में पीतल का बना हुआ एक शेर रखें। कुछ ही समय में आपके व्यक्तित्व में आए सकारात्मक परिवर्तन आपकी उपस्थिति को और अधिक शक्तिशाली बना देंगे। इस बात का विशेष ध्यान रखें कि शेर का मुंह भवन के केंद्र में होना चाहिए।
क्रिस्टल ग्लोब से मिलेगी सफलता
वास्तु शास्त्र की सहायता से आप जीवन की हर समस्या का समाधान आसानी से कर सकते हैं। यदि आप अपने भविष्य को लेकर चिंतित हैं तो भी वास्तु शास्त्र आपकी सहायता कर सकता है।
वास्तु शास्त्र के अनुसार जो लोग अपने व्यापार या करियर के प्रति चिंतित हैं तो उन्हें अपने कमरे, दुकान या ऑफिस में क्रिस्टल ग्लोब रखना चाहिए। इस ग्लोब से पॉजिटिव एनर्जी निकलती है, जो आपके व्यक्तित्व में नई ऊर्जा का संचार करती है और आप अपने करियर में उन्नति करते हैं। विद्यार्थियों के लिए क्रिस्टल ग्लोब काफी लाभदायक होता है। इससे उनकी स्मरण शक्ति तथा एकाग्रता बढ़ती है। इसलिए स्टूडेंट्स के कमरे में क्रिस्टल ग्लोब रखना अच्छा होता है।______________________________________________________________- __________

Get Your Free News Letter


Share To:

Abhishek bhatnagar

Hi i am abhishek bhatnagar form moradabad , working as freelancer for various project and also having great intrest in astrology ... Send your queries

check my website
www.abhishekbhatnagar.in

Post A Comment: